धर्म-आस्था

शिव पूजा में भूलकर भी न शामिल करें ये चीजें, इन चीजों से खुश नहीं होते महादेव

शिव पूजा में भूलकर भी न शामिल करें ये चीजें:-हिन्दू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सोमवार का दिन भोलेशंकर को समर्पित होता है। इस दिन विधि- विधान से भगवान शंकर की पूजा- अर्चना की जाती है। शिव जी को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग की पूजा- अर्चना की जाती है।

शिवलिंग पर कुछ चीजें अर्पित करने से शिवजी की विशेष कृपा प्राप्त होती है तो वही कुछ चीजों को शिव पूजा में भूलकर भी शामिल नहीं करना चाहिए। आज के इस लेख में हम लोग जानेंगे ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में जो भूलकर भी महादेव की पूजा में शामिल नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं शिवलिंग पर क्या चढ़ाना चाहिए और क्या नहीं….

शिवलिंग पर ये चीजें करें अर्पित

  • जल
  • दूध
  • चीनी
  • केसर
  • इत्र
  • दही 
  • देसी घी
  • चंदन 
  • शहद
  •  भांग

उपर बताई गयी सभी वस्तुए पौराणिक मान्यताओ के आधार पर भगवान शिव की प्रिय मणि गयी है और इनको पूजा में शामिल करने से भगवन शिव जल्दी ही प्रसन्न होते है.

चलिए अब बात करते है उन वस्तुओ के बारे में जो भूलकर भी भगवान शिव की पूजा में शामिल नहीं करना चाहिए:-

यह भी पढ़ें-

ज्ञानवापी में त्रिशूल, डमरू, नाग और पान… हाथ लगी सर्वे रिपोर्ट: सूत्र

शिवलिंग पर न चढ़ाएं येशिव पूजा में भूलकर भी न शामिल करें ये चीजें

  • शिवलिंग पर शंख से जल अर्पित न करें।
  • शिवलिंग पर केवड़े और केतकी का पुष्प अर्पित नहीं करना चाहिए।
  • भगवान शंकर की पूजा में तुलसी दल का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। भोलेनाथ को तुलसी दल नहीं चढ़ाया जाता है।
  • भगवान शंकर की पूजा में हल्दी का इस्तेमाल भी नहीं किया जाता है। 
  • भगवान शंकर को नारियल पानी भी नहीं चढ़ाया जाता है।

इन सभी चीजों को पूजा में शामिल न करने से आप भगवन शिव की पूजा में अनजाने में पाप का भागिदार बन्ने से बच जाते है. चलिए अब जानते है की आखिर भगवान शिव की पूजा अर्चना कैसे की जानी चाहिए और उसकी सही विधि क्या है?

भगवान शिव की पूजा- विधि

  • सुबह जल्दी उठ जाएं और स्नान आदि से निवृत्त होने के बाद साफ वस्त्र धारण करें।
  • घर के मंदिर में दीप प्रज्वलित करें।
  • भगवान शिव का और सभी देवी- देवताओं का गंगा जल से अभिषेक करें।
  • पुष्प अर्पित करें।
  • भगवान शिव की आरती करें और भोग भी लगाएं। इस बात का ध्यान रखें कि भगवान को सिर्फ सात्विक चीजों का भोग लगाया जाता है। 
  • भगवान शिव का अधिक से अधिक ध्यान करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button