Biography

Eknath Shinde Biography in Hindi [age, family, politics career]

CM of Maharashtra Eknath Shinde Biography in Hindi [party, news, son, village, age, mla list, twitter, date of birth, education, politics career, controversy, family, caste, religion, property, net worth, wife]एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय [Eknath Shinde Biography in Hindi]

30 जून २०२२ को महारास्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले एकनाथ शिंदे के बारे में हाल फिलहाल में काफी कुछ खबरे चल रही है. आज के इस लेख में हम महाराष्ट्र के नये मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय जानेंगे.

एकनाथ शिंदे का जीवन परिचय [Eknath Shinde Biography in Hindi]

एकनाथ शिंदे कौन है?: 9 फरवरी 1964 को मुंबई (महाराष्ट्र) में जन्मे एकनाथ शिंदे ने शायद कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा की कभी वो देश के सबसे powerfull स्टेट महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बनेंगे. चलिए एक नजर डालते है एकनाथ शिंदे के व्यक्तिगत जीवन पर.

नाम:एकनाथ शिंदे
जन्म तारीख:फरवरी 1964
उम्र:   58 साल
जन्म स्थान:मुंबई (महाराष्ट्र)
शिक्षा:न्यू इंग्लिश हाई स्कूल ठाणे
स्कूल:कला स्नातक (बीएकी डिग्री
कॉलेज:वाशवंतराव चव्हाण मुक्त विश्वविद्यालय, महाराष्ट्र
राशि:कुंभ राशि
गृहनगर:मुंबई (महाराष्ट्र)
वजन:68 किग्रा
आँखों का रंग:काला
बालो का रंग:काला
नागरिकता:भारतीय
धर्म:हिन्दू
शौक:   किताबें पढ़ना और फिल्में देखना
जाति:पाटीदार
पेशा:राजनीतिज्ञ
वैवाहिक स्थिति:विवाहित
राजनीतिक दल:शिवसेना
संपत्ति:7.82 करोड़
Eknath Shinde Biography in Hindi

एकनाथ शिंदे की शिक्षा

ठाणे शहर में मौजूद न्यू इंग्लिश हाई स्कूल में इन्होंने अपनी एजुकेशन थोड़े समय तक पूरी की। हालांकि यह अपनी प्रारंभिक एजुकेशन पूरी नहीं कर पाए और इन्होंने बीच में से ही अपनी प्रारंभिक पढ़ाई को छोड़ दिया और फिर अपने परिवार की आर्थिक सहायता करने के लिए यह ऑटो रिक्शा चलाने का काम करने लगे। इस समय इनकी उम्र 16 साल की थी। भाजपा और शिवसेना के गठबंधन वाली साल 2014 की सरकार बनने के पश्चात इन्हें मंत्री पद प्राप्त हुआ और उसके बाद उन्होंने फिर से एजुकेशन हासिल करने के उद्देश्य से वसंतराव चव्हाण मुक्त यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया और यहां से मराठी और राजनीति सब्जेक्ट में आर्ट ग्रेजुएट की डिग्री हासिल की।

Eknath Shinde Biography in Hindi
Eknath Shinde Biography in Hindi

Biography of Eknath Shinde in Hindi

Eknath shinde family history in hindi- ३० जून २०२२ को देश के सबसे ताकतवर राज्य मने जाने वाले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बने एकनाथ शिंदे का जन्म साल 1964 में भारत देश के महाराष्ट्र राज्य की राजधानी मुंबई में 9 फरवरी के दिन हुआ था। इनके पिता जी का नाम संभाजी नवलू शिंदे और माताजी का नाम गंगुबाई शिंदे है। एकनाथ शिंदे का बचपन थाने के किशन नगर वागले स्टेट 16 नंबर में बीता. इसमें अपने माता-पिता और तीन भाई-बहनों के साथ रहते थे।

एकनाथ शिंदे जी का विवाह लता शिंदे से हुआ है जो कि एक बिजनेस वूमेन है। इन्हें संतान के तौर पर २ बेटे और 1 बेटी प्राप्त हुई लेकिन दुर्भाग्यवश आज इनका केवल एक बेटा है जिसका नाम श्रीकांत शिंदे है। बताते हैं कि आज से 22 साल पहले यानी 2 जून 2000 के दिन सतारा में हुए एक नाव हादसे में उनकी आंखों के सामने उनके छोटे बेटे दीपेश और बेटी सुभद्रा की डूबने से मौत हो गई।

गरीब परिवार में पैदा हुए एक नाथ शिंदे 16 साल की उम्र में अपने परिवार को आर्थिक तौर पर सहायता देने के लिए ऑटो रिक्शा चलाने लगे थे. और काफी लंबे समय तक इन्होंने ऑटो रिक्शा चलाई। इसके साथ ही साथ यह पैसे कमाने के लिए शराब बनाने वाली एक फैक्ट्री में भी काम करने लगे। यह भी पढ़े:- History of Bajrang Dal in Hindi, बजरंग दल का पूरा इतिहास

उनके बचपन के दोस्त बताते हैं कि एकनाथ शुरू से ही लोगों के लिए खड़े होने वालों में से थे. उनके एरिया में पानी पीने की भारी समस्या थी। महिलाओं को दूर से पानी लाना पड़ता था। इस परेशानी को देखते हुए शिंदे एक दिन अपने दोस्तों के पास आए और कहा कि इस परेशानी का हल कैसे होगा? इस पर उनके एक दोस्त ने पॉलिटिक्स में उतरने की सलाह दे दी।

साल 1980 के आसपास में बाल साहब ठाकरे के भाषण और उनके विचारों से प्रभावित होकर के एकनाथ शिंदे ने शिवसेना पार्टी जॉइन कर ली। यह वह समय था जब शिवसेना ही एकमात्र इंडिया में ऐसी पार्टी थी, जो कट्टर हिंदुत्व के मुद्दे के लिए जानी जाती थी।

शिंदे के बारे में कहा जाता है की वह बहुत नीचे से ऊपर आए हैं। एकनाथ शिंदे पिछले 25 सालों से कोई चुनाव नहीं हारे हैं। मुख्यमंत्री बनने से पहले थाने की कोपरी पचपाखाड़ी विधानसभा सीट से विधायक और सरकार में नगर विकास और सार्वजनिक निर्माण मंत्री रह चुके हैं।

Political Career of Eknath Shinde in hindi

एकनाथ शिंदे के बारे में कहा जाता है की वो व्यक्ति नहीं बल्कि पूरी पार्टी है. उन्होंने राजनीती में जब से कदम रखा है तब से उनकी किस्मत और उनकी म्हणत का फल उनके सामने है और वो पिछले २५ सालो से कभी चुनाव नहीं हारे है.

  • इन्हें पहली बार पार्षद बनने का मौका साल 1997 में मिला। पहली बार यह ठाणे नगर निगम से पार्षद बने थे।
  • सदन के नेता के पद के लिए ठाणे नगर निगम में इन्हें साल 2001 में चुना गया।
  • ठाणे नगर निगम के पद पर वर्ष 2002 में इन्हें एक बार फिर से विजय हासिल हुई।
  • महाराष्ट्र विधानसभा के लिए साल 2004 में एकनाथ शिंदे चुने गए।
  • शिवसेना पार्टी के द्वारा साल 2005 में ठाणे जिला प्रमुख के पद पर इन्हें नियुक्ति दी गई।
  • साल 2009 में एक बार फिर से एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र विधानसभा के लिए चुना गया।
  • एकनाथ शिंदे को महाराष्ट्र विधानसभा के लिए साल 2014 में एक बार फिर से चुना गया।
  • साल 2014 के अक्टूबर के महीने से लेकर के साल 2014 के दिसंबर के महीने तक एकनाथ शिंदे महाराष्ट्र विधानसभा के विपक्ष के नेता बने रहे।
  • साल 2014 से लेकर के साल 2019 तक यह महाराष्ट्र गवर्नमेंट में कैबिनेट मंत्री बने रहे।
  • यह भी पढ़े: BioGraphy Of Draupadi Murmu In Hindi
  • साल 2014 से लेकर के साल 2019 तक यह ठाणे जिला के संरक्षण मंत्री भी बने रहे।
  • शिवसेना पार्टी का नेता इन्हें साल 2018 में नियुक्त किया गया।
  • महाराष्ट्र स्टेट गवर्नमेंट में लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री इन्हें साल 2019 में बनाया गया।
  • साल 2019 में इन्हें महाराष्ट्र विधानसभा के लिए चौथी बार चुना गया।
  • शिवसेना के विधायक दल के नेता के तौर पर इन्हें साल 2019 में चुना गया।
  • साल 2019 में 28 नवंबर के दिन इन्होंने महा विकास आघाडी के अंतर्गत कैबिनेट मिनिस्टर के तौर पर पद ग्रहण किया।
  • एकनाथ शिंदे को साल 2019 में शहरी विकास और लोक निर्माण मंत्री बनने का मौका प्राप्त हुआ।
  • साल 2019 में यह गृह मामलों के मिनिस्टर बने और साल 2020 में इन्हें ठाणे जिला का संरक्षक मंत्री बनाया गया।
  • 30 जून 2022 को इन्होने काफी विवादों के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री की शपथ ली.

शिवसेना पार्टी से क्यों हुए बागी

बकौल एकनाथ शिंदे शिवसेना अब वह पार्टी नहीं रही जिसकी नीव बाला साहेब ठाकरे जी ने रखी थी. उनकी माने तो पार्टी क्पिच्ले कुछ समय से अपने हिंदुत्व के मार्ग से हट चुकी है और यही उनके बागी होने का कारण भी है.

एकनाथ शिंदे की संपत्ति

साल 2019 की प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार एकनाथ शिंदे के पास वर्तमान में तकरीबन 7 करोड़ 82 लाख रुपए की संपत्ति है। इनका बैंक में जमा धन ₹281000 है। वहीं इनके पास नगद के तौर पर 3264760 रुपए हैं। इसके अलावा इनके पास बांड और डिवेंचर मिलाकर के 30,591 रुपए हैं। यह भी पढ़े:- सपना चौधरी का जीवन परिचय Sapna Choudhary Biography in Hindi

कुल सम्पति -7.82 करोड़ (साल 2019 तक )

चल संपत्ति

बैंकों में जमा धन2,81,000 रु
नकद धन32,64,760 रु. 
बांड, डिबेंचर और शेयर:30,591 रु
एलआईसी या अन्य बीमा पॉलिसियां: 50,08,930 रु. 
व्यक्तिगत ऋण/अग्रिम:50,08,930 रु.
मोटर वाहन:1,89,247 रु.
आभूषण46,55,490 रु. 
अन्य संपत्ति: 25,87,500 रु. 
Eknath Shinde Biography in Hindi

अचल संपत्ति

कृषि भूमि28,00,000 रुपये
वाणिज्यिक भवन:30,00,000 रु
आवासीय भवन8,87,50,000 रु.
देयताएं 3,74,60,261
Eknath Shinde Biography in Hindi
Home Pageयहाँ क्लिक करें
Eknath Shinde Biography in Hindi

उम्मीद है की आप लोगो को Eknath Shinde Biography in Hindi पसंद आई होगी. आप eknath shinde wikipedia in hindi पर उनके विषय में और जान सकते है. Eknath Shinde history in Hindi पर कुछ FAQ निचे दिए गये है.

FAQ’s about Eknath Shinde Biography in Hindi:-

Q: एकनाथ शिंदे कौन है?

ANS: शिवसेना पार्टी के नेता और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री.

Q: एकनाथ शिंदे की जाति क्या है?

ANS: पाटीदार

Q: एकनाथ शिंदे पहली बार विधायक कब बने?

ANS: 2004

Q: एकनाथ शिंदे के राजनीतिक गुरु कौन थे?

ANS: आनंद दीघे

एकनाथ शिंदे जी की पत्नी का नाम क्या है?

Ans:-एकनाथ शिंदे जी का विवाह लता शिंदे से हुआ है जो कि एक बिजनेस वूमेन है।

एकनाथ शिंदे के बेटे का नाम क्या है?

श्रीकांत शिंदे

Back to top button